Keyur Bhushan-संक्षिप्त जीवन परिचय

केयूर भूषण-संक्षिप्त जीवन परिचय

 

जीवन परिचय-

  • सेनानी का नाम- श्री केयूर भूषण
  • पिता का नाम- स्व. श्री मथुरा प्रसाद मिश्रा
  • माता का नाम- स्व. श्रीमती रोहानी देवी
  • जन्म तिथी- 01 मार्च 1928
  • जन्म स्थान- ग्राम जांता,जिला-बेमेतरा
  • शिक्षा- 5 वी तक की पढ़ाई बेमेतरा से की

स्वतंत्रता आन्दोलन में भागीदारी-

  1. सन 1942 में भारत छोड़ो आन्दोलन में भागीदारी के लिए गिरफ्तार,15 दिनों की सजा.
  2. सन 1942 में ही पुनः गिरफ्तार ,09 माह की सजा.

स्वतंत्रता आन्दोलन में पुनः भागीदारी-

  1. स्वतंत्रता के बाद कम्युनिस्ट पार्टी में शामिल होकर किसान,मजदुर,विद्यार्थी आन्दोलन में सक्रीय रहे.
  2. संत विनोभा भावे के भूदान आन्दोलन में सक्रिय भूमिका अदा की.
  3. महात्मा गांधी  द्वारा स्थापित “हरिजन सेवक संघ” में जिला,प्रान्त से लेकर राष्ट्रिय उपाध्यक्ष तक का दायित्व को निभाया.
  4. गोवा मुक्ति आन्दोलन में सक्रीय रहे.
  5. रियासतों के विलीनीकरण के लिए आन्दोलन में सक्रीय रहे.
  6. पंजाब के आतंकवाद के दौरान 12800 ग्रामों की पदयात्रा की.
  7. अस्पशर्यता निवारण के लिए राजिम से भोपाल तक पद यात्रा की.
  8. नाथद्वार मंदिर (राजस्थान) एवं पांडातराई मंदिर में दलित प्रवेश के लिए आन्दोलन किये.
  9. सन 1980 एवं 1985 में रायपुर लोकसभा के लिए सांसद निर्वाचित हुए.

 

साहित्यिक गतिविधियां-

-पत्रकारिता के साथ-साथ राष्ट्रिय एकता,सामाजिक समरसता के लिए छत्तिसगढ़ी एवं हिंदी में व्यंग,कविता एवं गध लेखन किये.जिसमे प्रकाशित पुस्तके है-

  1. लहर (छत्तिसगढ़ी कविता संग्रह )
  2. कुल के मरजाद (छत्तिसगढ़ी उपन्यास)
  3. कहां बिलागे मोर धन के कटोरा (छत्तिसगढ़ी कविता संग्रह)
  4. नित्य प्रवाह (प्राथना एवं भजन)
  5. कालू भगत (छत्तिसगढ़ी कहानी संग्रह)
  6. छत्तिसगढ़ी के नारी रत्न
  7. मोर मयारू गाँव (छत्तिसगढ़ी कविता संग्रह)
  8. हिरा के पीर (छत्तिसगढ़ी निबंध संग्रह)
  9. पथ(विभूतियों को समर्पित काव्य संग्रह)
  10. इसके अलावा इन्होने छत्तीसगढ़ के 75 प्रमुख स्वतंत्रा संग्राम सेनानियों की जीवन गाथा लिखी,जो अप्रकाशित है.

 

Source-News Paper,Facebook Page

 

 

ऐ भी पढ़े-

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top